MA क्या होता है MA कैसे करे पूरी जानकारी हिंदी में 2022

Photo of author

MA कैसे करे(MA kya hota hai): वर्तमान समय में लगभग हर एक क्षेत्र में शिक्षा कि महत्वता बढ़ती जा रही है। आजकल किसी भी मुकाम को हासील करने के लिए पढ़ाई करने की जरूरत पड़ती है। अभी के समय में ऐसे बहुत से कोर्स मोजुद है, जिसके माध्यम से तरक्की और नौकरी के काफी अच्छे अवसर देखने को मिलते है।

आज हम आप को अपने MA कैसे करे Article के माध्यम से ऐसे हि एक बेहतरीन और जाने माने कोर्स के बारे में बताएंगे। जोकि MA है। MA इतना बड़ा कोर्स है कि आपको इस डिग्री की मौजूदगी देश के कई सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ में देखने को मिलेगी।

MA कोर्स के बारे में तो आप सभी ने सुना हि होगा। परंतु यदि आप इस कोर्स के full details के बारे में जानना चाहते है, तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े। तो चलिए बिना समय गवाएं MA कैसे करे विषय के बारे में जानते हैं।

MA क्या है? | MA कैसे करे, पूरी जानकारी हिंदी में 2022

MA क्या होता है MA कैसे करे पूरी जानकारी हिंदी में 2022
MA क्या होता है MA कैसे करे पूरी जानकारी हिंदी में 2022

MA एक बहुत ही पॉपुलर पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स है, जिसे स्टूडेंटस द्वारा BA कोर्स करने के बाद किया जाता है। BA यानी कि bachelors of arts जोकि एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स होता है। और BA और MA को मुख्य रूप से आर्ट्स के स्टूडेंटस द्वारा किया जाता है।

MA एक मास्टर डिग्री कोर्स होता है, जोकि आर्ट के विषय में मास्टर की उपाधि देती है। MA 2 साल का कोर्स होता है। MA Arts के क्षेत्र में Visual Arts, Literature, Performing Arts और इनके अंतर्गत आने वाले क्षेत्र Dance, Music, Drama, Movie, Media, इत्यादि में विशेष शिक्षा प्रदान करता है।

MA ka full form – MA full form in hindi

  • MA full form in English- Master of Arts
  • MA full form in Hindi – आर्ट्स में स्नातकोत्तर

MA कैसे करे? – MA Kaise Kare

 MA एक पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स है, जिसे करने के लिए सबसे पहले BA का अंडर ग्रैजुएट कोर्स करना होता है। और BA करने के लिए सबसे जरूरी 10+2 यानी कि 12वी कक्षा में आर्ट्स स्ट्रीम से पास होना होता है। वैसे तो इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस, या कोमर्स किसी भी स्ट्रीम के स्टूडेंटस कर सकते हैं, परंतु फिर भी इस कोर्स को आर्ट्स के स्टूडेंटस द्वारा करना ज्यादा बेहतर होता है।

इस कोर्स को किसी भी कॉलेज या यूनिवर्सिटी के माध्यम से किया जा सकता है। बस कॉलेज या यूनिवर्सिटी में एडमिशन पाने के लिए कुछ एंटरेंस टेस्ट दिलाना होते हैं। वर्तमान समय में यह कोर्स सभी कॉलेज और यूनिवर्सिटी में उपलब्ध होता है। यह कोर्स 2 साल का होता है, जिसे करने के बाद भविष्य में तरक्की का काफी अच्छा मार्ग देखने को मिलता है।

Qualification For MA – MA के लिये योग्यता

MA एक मास्टर डिग्री कोर्स है, जिसे करने के लिए सबसे पहले इससे रिलेटेड डिप्लोमा कोर्स यानी कि BA का अंडर ग्रेजुएट कोर्स करना होता है। और BA का अंडर ग्रेजुएट कोर्स करने के लिए 12वी कक्षा में किसी भी स्ट्रीम से पास होना जरूरी है। BA 3 साल का कोर्स है, जिसे करने के बाद MA किया जा सकता है।

MA कोर्स फीस

MA इतना ब्रॉड कोर्स है, कि आपको इस डिग्री की मौजूदगी देश के कई सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ में देखने को मिलेगा। यह कोर्स बहुत ही पॉपुलर कोर्स है। इस कोर्स को बहुत से स्टूडेंट द्वारा करना पसंद किया जाता है। तो यदि MA कोर्स फीस की बात करे तो यह अलग अलग कॉलेज और यूनिवर्सिटी में अलग अलग हो सकता है। इस कोर्स की फीस सरकारी संस्था में लगभग 4000 से 6000 रुपये तक होता है। और  प्राइवेट संस्था में लगभग 8000 से 10000 रुपये तक हो सकता है।

इस कोर्स में लगने वाली फीस इस बात पर भी निर्भर करता है, की आप किस सब्जेक्ट से MA कोर्स कर रहे है। और वर्तमान समय में कई संस्थाओं में तो स्कॉलरशिप की भी सुविधा उपलब्ध होती है। जंहा स्कॉलरशिप के रूप में अधिकतर फीस वापस हो जाती है।

MA मे कौन कौन से सब्जेकट होते है – MA ke subject in hindi – MA subject in hindi

MA कोर्स के अंतर्गत विश्व से जुड़े हुए अलग अलग क्षेत्र के बारे में पढ़ाई होती है। जिसमें आपको कई सारे सब्जेक्ट देखने को मिलेंगे। तो चलिए जानते हैं कि MA मे कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं-

  1. History
  2. Geography
  3. P.Science
  4. Hindi
  5. English
  6. Social Work
  7. Interior Design
  8. Culture and Media
  9. P. Administration
  10. Gender studies
  11. Religious studies
  12. Rural studies
  13. Philosophy
  14. Psychology
  15. Anthropology
  16. Archaeology
  17. Linguistic
  18. M.A in different language, etc.

इसके अलावा भी कुछ और सब्जेक्ट होते हैं, जो कि कॉलेज और यूनिवर्सिटी पर निर्भर करता है।

MA मे एड्मीशन कैसे ले – MA Me Admission Kaise Hota

वर्तमान समय में अधिकतर कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ MA कोर्स कि सुविधा उपलब्ध होता है। MA एक पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स है, जिसमें एडमिशन पाने के लिए सबसे पहले BA का अंडर ग्रेजुएट कोर्स करना होता है। किसी भी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में MA कोर्स के एडमिशन के लिए सबसे पहले कॉलेज या यूनिवर्सिटी द्वारा निर्धारीत किया गया कुछ एंट्रेंस टेस्ट देना होता है।

उसी एंट्रेंस टेस्ट के आए हुए नंबर के आधार पर एडमिशन मिलता है। MA कोर्स के एडमिशन के लिए दिलाई जाने वाले एंट्रेंस एग्जाम में IIM और CAT जैसे एंट्रेंस एग्जाम शामिल है। वैसे आज के समय में तो बहुत से कॉलेज और यूनिवर्सिटी में डायरेक्ट एडमिशन भी होता है। यह पूरी तरह से कॉलेज और यूनिवर्सिटी पर निर्भर करता है, कि वह किस तरह से स्टूडेंट्स का एडमिशन लेंगे।

MA के बाद जॉब – MA Karne Ke Bad Salary

 जॉब की दृष्टि में MA एक बहुत ही अच्छा कोर्स है, जो कि ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद एक बेहतर भविष्य बनाने का मौका देता है। MA की डिग्री प्राप्त करने के बाद भारत में उच्च स्तर पर काफी अच्छे जॉब के अवसर देखने को मिलते हैं। तो आइए MA से जुड़े हुए कुछ बेहतरीन जॉब प्रोफाइल और सैलरी के बारे में जानते हैं-

  • Educational institutes
  • Industrial house
  • News and media
  • Teacher
  • Lecturer
  • Business house
  • Tourism industry
  • Social worker
  • Business Consultant
  • Organizer
  • Human Resource Manager
  • Labor Management Relations Specialist
  • Marketing manager
  • Music field
  • Government service

MA कोर्स को करने के बाद अलग अलग क्षेत्र में जॉब के अवसर देखने को मिलते हैं। और अलग अलग जॉब के अनुसार अलग अलग सैलरी पैकएज होती है। शुरुआती दौर में लगभग ₹10000 से लेकर ₹30000 तक प्रति महीना कमाया जा सकता है। उसके बाद कुछ समय का अनुभव प्राप्त होने पर MA Salary लगभग ₹25000 से लेकर ₹50000 तक बढ़ जाती है। कुछ पोस्ट तो ऐसे होते हैं, जिसमें यह सैलरी ₹50000 से लेकर ₹100000 तक भी होता है।

MA के बाद क्या करे – MA ke bad kya kare

MA कोर्स एक मास्टर डिग्री कोर्स है, जिसे करने के बाद नौकरी के बहुत से अच्छे अच्छे अवसर देखने को मिलते है। परंतु फिर भी यदि आप MA के बाद कुछ और भी करना चाहते है, तो आप को बता दे कि MA के बाद भी ऐसे बहुत से कोर्स है। जिसे करने के बाद अपने भविष्य को और भी बेहतर बनाने में मदद मिलती है। तो आईए जानते हैं कि MA के बाद क्या करे-

  • PHD
  • PGDCA
  • PGDM
  • MBA
  • DCA
  • ADCA
  • B.Ed
  • M.Phil
  • LLB
  • BSW, etc.

MA करने के फायदे – MA Karne Ke Fayde

MA कोर्स से जुड़े हुए बाकी जानकारियों के साथ साथ MA करने के फायदो के बारे में भी जानना जरूरी होता है। जो भी स्टूडेंटस इस कोर्स में रुचि रखते हैं, उनको इस कोर्स से होने वाले फायदों के बारे में भी पता होना जरूरी है। तो आईए MA से जुड़े हुए फायदो के बारे में जानते हैं-

  • इस कोर्स को करने के बाद मास्टर डिग्री डिग्री हासिल होती है। जिसके माध्यम से अलग अलग प्रकार के रोजगार के अवसर प्राप्त होते है।
  • यह एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है, जिसे करने के बाद काफी अच्छा नॉलेज और अनुभव प्राप्त होता है।
  • इस कोर्स को करने के बाद सरकारी और प्रईवेट दोनो क्षेत्रो में जॉब करने का मौका मिलता है।
  • स्नातक डिग्री के मुकाबले इस मास्टर डिग्री के माध्यम से उच्च पदों पर नौकरी प्राप्त की जा सकती है।
  • शिक्षक के रूप में कार्य करने के लिए अपने पसंदीदा विषय को चुनकर इस कोर्स को किया जा सकता है।
  • इस कोर्स को करने के बाद विदेशों में जाकर अच्छी नौकरी प्राप्त की जा सकती है।
  • इस कोर्स को करने के बाद अपना खुद का बिजनेस भी शुरू किया जा सकता है।
  • इस कोर्स को करने के बाद PhD जैसे कई सारे कोर्स भी किया जा सकता है।

MA Ke Baad Best Course

MA के बाद करने लायक बहुत से कोर्स मौजूद है, जिसे करने के बाद रोजगार के काफी अच्छे अच्छे अवसर देखने को मिलते हैं। जैसे कि हमने आपको ऊपर कुछ बेहतरीन कोर्स के बारे में बताया है। वह सभी कोर्स MA के बाद करने लायक बेस्ट कोर्स में से है।

M.A के बारे में पूरी जानकारी

FAQ’s Related To M.A

M.A का फुल फॉर्म क्या है?

M.A का फुल फॉर्म Master of Arts होता है, जिसे हिंदी में आर्ट्स में स्नातकोत्तर कहा जाता है।

M.A के बाद क्या करना उचित होगा?

M.A के बाद खासतौर पर किसी क्षेत्र में नौकरी करना बेहतर होता है। परंतु यदि आप कुछ और भी करना चाहते है तो आप PHD या फिर किसी विषय से डिप्लोमा कर सकते हैं।

क्या मैं M.A के बाद बीएड कर सकता हूं?

हां! M.A के बाद B.Ed किया जा सकता है।

M.A कितने साल का होता है? M.A kitne year ki h?

M.A 2 साल का कोर्स होता है।

MA ke subject kitne hote hai? – MA me kitne subject hote?

MA में करीबन History, Geography, P.Science, Hindi, English, Social Work, Interior Design, Culture and Media, P. Administration, Gender studies, Religious studies, Rural studies, Philosophy, Psychology, Anthropology , Archaeology, Linguistic, M.A in different language, सब्जेक्ट होते हैं।

यह भी पढ़े:

निष्कर्ष

विद्यार्थी पढ़ाई के क्षेत्र में कई बड़े पद हासिल करने की फिराक में हमेशा रहता है। विद्यार्थी को अपने भविष्य में ऊंचे पदों पर नौकरी हासिल करने के लिए उच्च लेवल की शिक्षा प्राप्त करने का सपना होता है। आज के आर्टिकल में हमने आपको कला वर्ग के विद्यार्थियों के लिए मास्टर डिग्री यानी कि M.A क्या होता है? इसके बारे में डिटेल में जानकारी दी है।

M.A कैसे करें इसके बारे में भी आज के इस आर्टिकल में आपको जानकारी मिल गई है। यदि किसी व्यक्ति को हमारे M.A कैसे करें आर्टिकल से संबंधित कोई भी सवाल है, तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं।

मेरा नाम राहुल सिंह है। मैं EntranceExamZone वेबसाइट का मालिक हूँ। मेरी रूचि नई सामग्री को आप तक पहुँचाने में अधिक है। इसलिए मेने अपनी यह वेबसाइट बनाकर आप तक हर नई जानकारी पहुंचाने का लक्ष्य लिया है। मेरे पास 3 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और मैं 5 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहा हूँ।

Leave a Comment