फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? | 1st Grade Teacher Kaise Bane

Photo of author

फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? (1st Grade Teacher Kaise Bane): उच्च माध्यमिक विद्यालयों में उच्चतर कक्षाओं यानि कि 11वीं तथा 12वीं कक्षा को अध्ययन कराने वाले अध्यापक स्कूल व्याख्याता या प्रथम श्रेणी अध्यापक या प्राध्यापक कहलाते हैं।

प्रथम श्रेणी अध्यापक अपने विषय के एक विशेषज्ञ अध्यापक होते हैं तथा अपने विषय के बारे में बहुत ही अच्छीा जानकारी रखते हैं। प्रत्येक विद्यालय में चाहे व सरकारी विद्यालय हो या निजी विद्यालय जिसमें प्रत्येक संकाय के प्रत्येक विषय के अलग-अलग विशेषज्ञ अध्यापक अर्थात् प्रथम श्रेणी अध्यापक होते हैं। विद्यालयों में प्रमुख रूप से चार संकाय होते हैं। विज्ञान संकाय, कला संकाय,वाणिज्य संकाय तथा कृषि संकाय।

इन सभी संकायों में प्रत्येक विषय का अपना स्वयं का एक विशेषज्ञ प्रथम श्रेणी अध्यापक होता है। जैसे कला संकाय में भूगोल, राजनीति,इतिहास,हिंदी तधा चित्रकला आदि विषय होते हैं। विज्ञान संकाय में रसायन विज्ञान, भौतिक विज्ञान,गणित,जीव विज्ञान आदि विषय होते हैं। साथ ही वाणिज्य संकाय में लेखाशास्त्र, व्यवसाय प्रबंधन, अर्थशास्त्र आदि विषय होते हैं।

कृषि संकाय में रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान व कृषि क्षेत्र के विषय होते हैं। प्रत्येक संकाय में अनिवार्य रूप से भाषाओं के विषय भी होते हैं। इन सभी विषयों के लिए अलग-अलग अध्यापक होते हैं। सामान्य रूप से हम कह सकते हैं कि उच्च माध्यमिक विद्यालय में पढ़ाने वाले अध्यापक ही स्कूल व्याख्याता कहलाते हैं। जिसे फर्स्ट ग्रेड टीचर का जाता है। आज के आर्टिकल में हम आपको 1st Grade Teacher Kaise Bane के बारे में जानकारी देने वाले है।

फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? | 1st Grade Teacher Kaise Bane

विषय सूची

फर्स्ट ग्रेड टीचर बनने के लिए योग्यताएं या पात्रता

  1. प्रथम श्रेणी अध्यापक के आवेदन के लिए संबंधित विषय में स्नातक की डिग्री प्राप्त हो।
  2. संबंधित विषय में आवेदक के द्वारा पोस्ट ग्रेजुएशन या मास्टर डिग्री अर्थात् स्नातकोत्तर की डिग्री उत्तीर्ण होना आवश्यक है।
  3. स्नातक एवं परास्नातक की डिग्री के साथ बी एड की डिग्री होना आवश्यक है। बी एड या समकक्ष शिक्षक प्रशिक्षण डिग्री हो।
  4. फर्स्ट ग्रेड टीचर बनने के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष मानी गई है, जो कि अलग-अलग राज्यों में उनके द्वारा निर्धारित भर्ती नियम एवं शर्तों के अनुसार अलग अलग हो सकती है।
  5. प्रत्येक राज्य अपने भर्ती नियमों के अनुसार प्रत्येक वर्ग को आयु सीमा में शिथिलता प्रदान करते हैं।
Minimum Age21 Year
Maximum Age40 Year

फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? (1st Grade Teacher Kaise Bane)

जिन उम्मीदवार को प्रथम श्रेणी अध्यापक जाने की फर्स्ट ग्रेड अध्यापक बनने की चाहत है। उन विद्यार्थियों को नीचे दिए गए निम्नलिखित चरणों को फॉलो करना होगा। हम आपको फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने (1st Grade Teacher Kaise Bane) इसके बारे में जानकारी देने का पूरा प्रयास करेंगे।

1st Grade Teacher Kaise Bane
image: 1st Grade Teacher Kaise Bane

12वीं कक्षा पास करे

फर्स्ट ग्रेड टीचर या प्रथम श्रेणी शिक्षक बनने के लिए आवेदक को विद्यालय स्तर की शिक्षा से ही अपने भविष्य के लिए सोचते हुए तैयारी करनी चाहिए। प्रथम श्रेणी शिक्षक बनने के लिए हमें 11वीं एवं 12वीं कक्षा में अपने पसंदीदा संकाय से बारहवीं कक्षा को उत्तीर्ण करना चाहिए।

ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त करे

अर्थात् उच्च माध्यमिक स्तर की परीक्षा को पास करना चाहिए। 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात विद्यार्थी के द्वारा अपने संकाय के अंतर्गत ग्रेजुएशन तथा स्नातक की डिग्री पूर्ण करनी चाहिए। स्नातक करने के पश्चात संबंधित संकाय के किसी विषय विशेष में मास्टर डिग्री या पोस्ट ग्रेजुएशन अर्थात् स्नातकोत्तर की डिग्री होनी चाहिए।

स्नातकोत्तर की डिग्री प्राप्त करे

स्नातकोत्तर की डिग्री पूर्ण करने के पश्चात निर्धारित मानदंडों के अनुसार बीएड की डिग्री उत्तीर्ण करना आवश्यक होता है। बी एड करने के लिए अलग-अलग वर्ग के विद्यार्थियों के लिए अलग-अलग शर्त एवं पात्रता होती है। जैसे सामान्य वर्ग के लिए बी एड करने हेतु स्नातक में न्यूनतम 50% अंकों का होना आवश्यक है या परास्नातक होना जरूरी होता है।

जबकि अन्य पिछड़ा वर्ग अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग तथा सभी वर्ग की महिलाओं के लिए इन न्यूनतम उत्तीर्ण अंक में छूट का प्रावधान होता है।

बी.एड की डिग्री हासिल करे

बी एड की डिग्री का कोर्स 2 वर्ष का होता है। वर्तमान में बी एड की डिग्री स्नातक की डिग्री के साथ भी कराई जाती है। तथा स्नातक के बाद डिग्री करने के लिए 2 साल का कोर्स होता है। प्रथम श्रेणी अध्यापक बनने के लिए बी एड की डिग्री में न्यूनतम 60% अंकों का होना आवश्यक है।

भर्ती में फॉर्म भरे

बी एड की डिग्री पूर्ण करने के बाद में संबंधित राज्य सरकारों एवं केंद्र सरकार के द्वारा प्रथम श्रेणी अध्यापक भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं। इनमें आवेदन करने के पश्चात आवेदक को लिखित परीक्षा देनी होती है। यह लिखित परीक्षा अलग-अलग संकाय में अलग-अलग विषयों में होती है।

प्रथम श्रेणी अध्यापक के लिए पेपर

प्रथम श्रेणी अध्यापक के लिए लिखित परीक्षा में 2 पेपर होते हैं प्रथम पेपर सामान्य ज्ञान से सम संबंधित होता है तथा द्वितीय पेपर विषय का होता है जिसके लिए उन्होंने प्रथम श्रेणी शिक्षक हेतु आवेदन किया है।

प्रथम पेपर

प्रथम पेपर सामान्य ज्ञान का सभी विषयों के प्रथम श्रेणी अध्यापकों के लिए समान होता है तथा द्वितीय पेपर अपने अपने विषय के हिसाब से होता है। लिखित परीक्षा होने के बाद में संबंधित भर्ती बोर्ड या आयोग के द्वारा लिखित परीक्षा का परिणाम जारी किया जाता है। यह परिणाम वर्ग या श्रेणी के अनुसार पदों की संख्या को ध्यान में रखते हुए तैयार किया जाता है।

द्वितीय पेपर / साक्षात्कार

लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण होने के पश्चात साक्षात्कार की प्रक्रिया से गुजरना होता है। लिखित परीक्षा में साक्षात्कार के अंक जुड़ने के बाद में अंतिम रूप से परिणाम जारी किया जाता है। यह परिणाम जारी करने के बाद चयनित अभ्यर्थियों का आयोग के द्वारा दस्तावेज सत्यापन का कार्य किया जाता है।

Frist Grade Teacher Selection Process | फर्स्ट ग्रेड टीचर की चयन प्रक्रिया

उम्मीदवार जब फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? (Frist Grade Teacher Kaise Bane) इस सवाल से जूझ रहा है। तो उस विद्यार्थी या उम्मीदवार को सबसे पहले फर्स्ट ग्रेड टीचर की चयन प्रक्रिया को समझना होगा फर्स्ट ग्रेड टीचर की चयन प्रक्रिया के आधार पर ही आप फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? (Frist Grade Teacher Kaise Bane) इस सपने को पूरा कर सकते हैं और अपने सवाल का जवाब भी पा सकते हैं। फर्स्ट ग्रेड टीचर की चयन प्रक्रिया नीचे कुछ इस प्रकार से दी गई है।

  1. लिखित परीक्षा
  2. रिजल्ट
  3. साक्षात्कार
  4. मेरिट लिस्ट
  5. फर्स्ट ग्रेड टीचर

फर्स्ट ग्रेड टीचर के भविष्य में प्रमोशन

फर्स्ट ग्रेड टीचर बनने के बाद उम्मीदवार को किस तरह से भविष्य में प्रमोशन मिल सकता है। इसके बारे में यदि हम बात करें तो फर्स्ट ग्रेड अध्यापक जो 12वीं कक्षा तक पढ़ाने वाले अध्यापक की उच्च श्रेणी में गिना जाता है।

उसके बावजूद भी फर्स्ट ग्रेड टीचर को भविष्य में प्रमोशन के तौर पर प्रिंसिपल और स्कूल हेड मास्टर के तौर पर फॉरवर्ड किया जा सकता है। इसके अलावा यदि आपके कार्य की रिपोर्ट बेहतरीन है और उसके साथ-साथ आप नेट परीक्षा का एग्जाम देते हैं, तो आपको कॉलेज लेक्चरर बनने का भी मौका मिलता है।

Frist Grade Teacher Job Profile | फर्स्ट ग्रेड टीचर के काम

प्रथम श्रेणी अध्यापक पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को कई तरह से अपनी जिम्मेदारियों को निभाना होता है फर्स्ट ग्रेड टीचर के कार्य की यदि हम बात करें, तो उसकी जानकारी कुछ इस प्रकार से है।

  • प्रथम श्रेणी अध्यापक जिस विषय का अध्ययन करवाता है।
  • उस उम्मीदवार को उस विषय से संबंधित सभी क्लास में जाकर बच्चों को पढ़ाना होता है।
  • फर्स्ट ग्रेड टीचर को अपने पहले क्लास की हाजिरी रजिस्टर यानी उपस्थिति रजिस्टर को भी मेंटेन करना पड़ता है।
  • परीक्षा के दौरान फर्स्ट ग्रेड टीचर को पेपर तैयार करने में अपनी भूमिका निभानी होती है।
  • बिना बोर्ड एग्जाम वाले क्लास की परीक्षा कॉपी चेक करके उनके रिजल्ट को तैयार करने तक संपूर्ण गतिविधियों में मुख्य रूप से भाग लेना होता है।
  • इसके अलावा बोर्ड परीक्षा की एग्जाम कॉपी को चेक करने की भूमिका भी निभानी होती है।
  • फर्स्ट ग्रेड टीचर को परीक्षाओं जैसे कीबोर्ड और अन्य कंपटीशन एग्जाम मैं फ्लाइंग के तौर पर अपनी भूमिका निभानी होती है।
  • फर्स्ट ग्रेड टीचर बनने के पश्चात उम्मीदवार को चुनाव और अन्य सरकारी कार्य में भी अपनी भूमिका निभानी होती है।

Frist Grade Teacher Ki Salary | फर्स्ट ग्रेड टीचर की सैलरी कितनी होती है?

दस्तावेज सत्यापन के पश्चात आयोग के द्वारा नियुक्ति प्रक्रिया का काम संपन्न किया जाता है। अध्यापकों के वेतन का निर्धारण संबंधित सरकार के द्वारा किया जाता है। प्रथम श्रेणी अध्यापक का वेतन, द्वितीय श्रेणी अध्यापक एवं तृतीय श्रेणी अध्यापक की वेतन से अधिक होता है।

किसी भी अध्यापक को मिलने वाले मूल वेतन के आधार पर महंगाई भत्ता एवं अन्य प्रकार के भत्ते मिलते हैं। सामान्य रूप से महंगाई भत्ता वर्ष में दो बार बढ़ाया जाता है। सभी राज्य सरकार एवं केंद्रीय सरकार अपने-अपने कर्मचारियों के वेतन का निर्धारण समय-समय पर करती रहती है।

मूल वेतन पर प्रतिवर्ष 3 से 4% तक वृद्धि होती है। प्रथम श्रेणी अध्यापकों को सेवा शर्तों व नियमों के अनुसार अंशदाई पेंशन योजना के अनुसार पेंशन सुविधा का लाभ भी दिया जाता है।

इस प्रकार हम कह सकते हैं कि अध्यापक का पद सम्मानजनक एवं महत्वपूर्ण पद होता है। प्रथम श्रेणी अध्यापक अपने आप में विषय विशेष के विशेषज्ञ शिक्षक होते हैं। इसलिए इनका समाज में स्थान बहुत ही गौरवपूर्ण माना जाता है। भारत में शिक्षा का क्षेत्र बहुत ही बड़ा है जिसके लिए अलग-अलग स्तर के विद्यार्थियों के लिए अलग-अलग स्तर के अध्यापकों का चयन करके नियुक्ति की जाती है।

फर्स्ट ग्रेड टीचर पद पर काम करने वाले उम्मीदवार को हर महीना बेसिक सैलरी 55000 से 90000 तक दी जाती है। इसके अलावा सरकारी भत्ते कई प्रकार से मिलते है जिसकी जानकारी नीचे कुछ इस प्रकार से है।

  • महंगाई भत्ता
  • घर किराया भत्ता
  • पेट्रोल भत्ता
  • CCA
  • न्यूज़ पेपर भत्ता
  • ट्रेवल भत्ता

फस्ट ग्रेड टीचर कैसे बने?

यह भी पढ़े:

FAQ’s Related To 1st Grade Teacher

1st Grade Teacher Kaise Bane (फस्ट ग्रेड टीचर कैसे बने?)

इसके बारे में जानकारी हमने आपको इस आर्टिकल में आप हमारे इस आर्टिकल को पढ़कर इसके बारे में जानकारी हासिल कर सकते है।

1st ग्रेड टीचर बनने के लिए जरुरी योग्यता क्या होनी चाहिए?

प्रथम श्रेणी अध्यापक बनने के लिए उम्मीदवार के पास मास्टर डिग्री होना जरुरी है उसके बाद में उम्मीद वार को 1st टीचर भर्ती में आवेदन करके परीक्षा प्रथम श्रेणी अध्यापक बन सकता है।

प्रथम श्रेणी अध्यापक बनने के लिए जरुरी उम्र क्या होनी चाहिए?

कोई भी उम्मीद वार प्रथम श्रेणी अध्यापक बनना चाहता है तो उंसी न्यूनतम उम्र 21 साल होना जरुरी है।

प्रथम श्रेणी अध्यापक बनने के लिए कितना खर्चा आता है?

जो व्यक्ति प्रथम श्रेणी अध्यापक बनना चाहता है 12वीं कक्षा पास करने के बाद में लगभग 1 लाख से 2 लाख तक का खर्चा आएगा क्योंकि UG और PG करने में लगभग इतना तो खर्चा आएगा।

1st ग्रेड टीचर की सैलरी कितनी होती है?

प्रथम श्रेणी अध्यापक को प्रतिमहिना नेट सैलरी 90 हजार से 1 लाख तक की मिलती है।

निष्कर्ष

प्रथम श्रेणी अध्यापक बनना हर आदमी का सपना होता है। लेकिन इसके लिए विधार्थी को काफी अधि मेहनत करनी पड़ती है। आज के आर्टिकल में हमने आपको फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? (1st Grade Teacher Kaise Bane) के बारे में जानकारी दी है।

हमें उम्मीद है, की हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको पसंद आई होगी। यदि आपको इस आर्टिकल से जुड़ा कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट में हमें बता सकते है।

इस आर्टिकल में हमने आपको फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? (1st Grade Teacher Kaise Bane) के बारे में डिटेल में जानकारी आप तक पहुचाने का प्रयास किया है। इस आर्टिकल को अंत तक पढने के आपका धन्यवाद, रोजाना ऐसी ही रोचक जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट पर बने रहे।

मेरा नाम राहुल सिंह है। मैं EntranceExamZone वेबसाइट का मालिक हूँ। मेरी रूचि नई सामग्री को आप तक पहुँचाने में अधिक है। इसलिए मेने अपनी यह वेबसाइट बनाकर आप तक हर नई जानकारी पहुंचाने का लक्ष्य लिया है। मेरे पास 3 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और मैं 5 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहा हूँ।

3 thoughts on “फर्स्ट ग्रेड टीचर कैसे बने? | 1st Grade Teacher Kaise Bane”

Leave a Comment