NEFT की फुल फॉर्म क्या होती है? | NEFT Full Form In Hindi

Photo of author

NEFT Full Form In Hindi:  NEFT का नाम आप सभी ने सुना ही होगा, NEFT पैसे ट्रंसफर करने की एक इलेक्ट्रॉनिक प्रक्रिया होती है। NEFT की प्रणाली को RBI द्वारा संचालित किया गया था। NEFT की शुरुआत सन 2005 से किया गया था। NEFT के द्वारा  भारत में बैंक के ग्राहकों को  NEFT के जरिये सुविधा प्रदान की जाती थी।

जिससे ग्राहक एक बैंक से दूसरे बैंक मे NEFT की सहायता से पैसे ट्रांसफर  कर सकते है। NEFT एक ऑनलाइन या नेटबैंकिंग प्रकिया है, जिसके जरिये हम घर बैठे किसी को भी पैसे भेज सकते है और पैसे प्राप्त कर सकते है। आज के आर्टिकल में हम आपको NEFT की फुल फॉर्म क्या होती है? (NEFT Full Form In Hindi) के बारे में डिटेल में जानकारी देने वाले है।

NEFT की फुल फॉर्म क्या होती है? | NEFT Full Form In Hindi

What is NEFT in Hindi

NEFT को नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रांसफर  भी कहते है। आज के समय मे नेटबैंकिंग का उपयोग अधिक मात्रा में किया जा रहा है, लोग घर बैठे Neft के जरिये आप किसी पैसे भेजते है, तो उसकी पूरी जानकारी आपके पास होनी चाहिए। जैसे कि उसका बैंक अकाउंट नंबर, IFSC कोड, ब्रांच का नाम और जिसको पैसे भेजनें उसका नाम पता होना चाहिए।

उस अकाउंट की अच्छे जानकारी और पहचान कन्फर्म करते है, फिर अकाउंट वेरीफाई होने मे कुछ समय लगता है। उसके बाद अकाउंट एक्टिव होता है, तब जा के आप उस अकाउंट पर पैसे ट्रांसफर करते है। NEFT  की सुविधाएं सभी बैंको मे उपलब्ध हो गई है। जैसे – SBI bank, ICICI bank, HDFC Bank,  Bank of Baroda, axis bank, union bank, Central bank, IDBI bank आदि।

NEFT full form in Hindi

1. NEFT full form in Hindi :- राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक निधि अन्तरण है।
2.NEFT full form in English :- National Electronic Funds Transfer.

NEFT को National Electronic Funds transfer भी कहते है। NEFT का उपयोग करके एक हम एक अकाउंट दूसरे आकउंट पैसे को ट्रांसफर कर सकते है और पैसे प्राप्त कर सकते है। कहने मतलब की आप ऑफिस मे कुछ जॉब करते हो आपकी सैलेरी आपके अकाउंट मे NEFT के जरिये आपके अकाउंट मे वहा से ट्रांसफर कर दिया जाता है। 2-3 घंटे के अंदर आपके अकाउंट मे पैसे ट्रांसफर हो जाते है, और neft मे सर्विस चार्ज बहुत ही कम काटा है। 10हज़ार से 1 लाख तक पैसेट्रांसफर किया है। तो इसमें 5₹ सर्विस चार्ज कटेगा सर्विस चार्ज समय – समय मे घाटता और बढ़ता रहता है।

Conclusion

NEFT को National Electronic Funds transfer या राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक निधि अन्तरण भी कहते है। NEFT ने सभी लोगो के लिए बहुत सी नेटबैंकिंग सुविधाएं प्रदान की है। जिससे सभी लोग अपना काम बिना बैंक गए ही पैसे का लेन – देन ऑनलाइन घर बैठे कर लेते है, इससे समय की बचत भी होती है और ग्राहकों को बैंक जाकर लम्बी लाइन भी नहीं लगनी पडती। इंटरनेट बैंकिंग का यूज़ करके हम ट्रैन, फ्लाई की ऑनलाइन टिकट बुकिंग कर सकते है।

कभी -कभी नेटबैंकिंग प्रॉब्लम आने से हमारा पैसा ट्रांसफर नहीं होता है, क्योंकि कुछ सर्वर की प्रॉब्लम होती है। आज के आर्टिकल में हम आपको NEFT की फुल फॉर्म क्या होती है? (NEFT Full Form In Hindi) के बारे में जानकारी देने वाले है। हमे पूरी उम्मीद है, की हमारे द्वारादी गयी जानकारी आपको पसंद आई होगी।

FAQ

Q.1: NEFT फॉर्म कैसे भरे?

NEFT का फॉर्म भरना बहुत हुई ज्यादा सरल है। NEFT का फॉर्म जिसमे अपने और लाभार्थी के खाते की डिटेल भरनी होती है।

Q.2: नेफ्ट के फॉर्म में हस्ताक्षर कहा पर करना होता है?

नेफ्ट का फॉर्म भरने के पश्चात् आपको फॉर्म के निचे हस्ताक्षर का आप्शन दिख जाएगा वहा पर बैंक अकाउंट होल्डर का हस्ताक्षर करना होगा।

Q.3: NEFT के माध्यम से कितना पैसा भेज सकते है?

नेफ्ट पैसा ट्रांसफर सिस्टम का प्रयोग करके आप 25 लाख रुपये इस अकाउंट से दुसरे अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते है।

Q.4: NEFT करने पर कितना समय लगता है?

यदि आप किसी भी अकाउंट में नेफ्ट के माध्यम से पैसा भेज रहे है तो अगले वाले व्यक्ति के खाते में पैसा 2 घंटे के भीतर चले जायेंगे।

Q.5: NEFT करने पर कितना चार्ज लगता है?

यदि आप नेफ्ट करके पैसा ट्रांसफर करते है, तो आपके खाते में से 20 से 30 रुपये हर बार कटेंगे। हालाँकि जिनका बिसनेस अकाउंट है कहने का मतलब करंट अकाउंट है, तो उनको ये चार्ज नही देना होगा।

यह भी पढ़े:

Leave a Comment

TATA NEW CAR, BEST TATA CAR, LATEST MODEL TATA CAR, TATA PUNCH NEW MODEL, TATA PUNCH PRICE