DM की फुल फॉर्म क्या होती है? | DM Full Form In Hindi

Photo of author

DM Full Form In Hindi: DM बनने का सपना हर किसी स्टूडेंट होता है, और वह 12th के बाद ही सोच लेते है कि हमको क्या बनना है। DM का नाम आप लोगो ने सुना ही होगा कि वह जिले का DM है। DM जिला मजिस्ट्रेट या जिला अधिकारी भी होता है। देश के सभी जिलों मे जनता को सुविधाएं देने के लिए अधिकारियो कि नियुक्ति दी जाती है। DM अधिकारी बनने के लिए बहुत कड़ी मेहनत करनी पडती है। आज के आर्टिकल में हम आपको DM की फुल फॉर्म क्या होती है?(DM Full Form In Hindi) के बारे में जानकारी देने वाले है।

DM की फुल फॉर्म क्या होती है? | DM Full Form In Hindi

What is DM in Hindi

डीएम  को जिला अधिकारी भी कहते है। देश के हर राज्य मे जिले होते और उन जिलों मे काम करने के लिए सरकार जिलों के लिए अधिकारियो की नियुक्ति देती है। जिससे जनता को अपने जिलों मे सभी चीज़ो की आवश्यकताओं की पूर्ति की जा सकती है। DM एक अधिकारी होता है,जो अपने जिले मे रह रहे लोगो के लिए  सुरक्षा और जिले की सेवा प्रदान करता है।
DM का पद जिले का सबसे बड़ा अधिकारी पद होता है। DM बनने के लिए OBC वर्ग के लिए आयु 21से 33 वर्ष  अधिकतम होनी चाहिए, और ST/SC वर्ग के लिए 21-35 वर्ष होना चहिए।

DM Full Form In Hindi

  1. DM full form in Hindi :- जिला मजिस्ट्रेट या जिला अधिकारी होता है।
  2. DM full form in English :-District Magistrate.

DM को District Magistrate भी कहते है। DM जिला का सबसे बड़ा अधिकारी होता है। DM बनने के लिए आपको 12th के बाद ग्रेजुएशन किसी भी सब्जेक्ट से कम्पलीट करना होता है। उसके बाद DM के लिए आपको  आईएएस का एग्जाम क्लियर करना होता है। इसमें 8 लाख ज्यादा लोग भाग लेते है। जिसमे से 400-600 लोग ही इस परीक्षा मे पास हो करना होता है। आपको डायरेक्ट DM कोई नहीं बना सकते है। इसके लिए आपको ये तीन एग्जाम क्लियर करना होता है। Preliminary exam, main exam, Interview तीनो एग्जाम मे पास हो जाओगे तब आप को DM यानि जिला अधिकारी का पद मिलता है।

Conclusion

DM बनने के बाद आपकी जिम्मेदारी अपने जिला के प्रति बढ़ जाती है। जिला अधिकारी का काम होता है, कि क़ानून व्यवस्था को बनाए रखना होता है। DM बनने के बाद अपने जिले मे हो रहे अपराधों के खिलाफ सरकार की सहायता ले कर आपराधियों को सजा दिलवाये DM वह होता है। जो अपने जिले मे रह रहे जनता को हर तरह की सुरक्षा और सेवा प्रदान करता है

अपनी जिम्मेदारी को अच्छी तरह से निभाता है। इसलिये उसे जिला का मुखिया कहा जाता है या जिला मजिस्ट्रेट कहते है। आज के आर्टिकल में हमने DM की फुल फॉर्म क्या होती है?(DM Full Form In Hindi) के बारे में सम्पूर्ण जानकारी आप तक पहुचाई है। हमें उम्मीद है, की हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको पसंद आई होगी यदि किसी व्यक्ति को इस आर्टिकल से जुड़ा कोई सवाल है तो वह हमें कमेट में पूछ सकता है।

FAQ

Q.1: जिला मजिस्ट्रेट कौन होता है?

Ans: एक जिले के पुलिस का मुखिया जिला मजिस्ट्रेट कहलाता है DM को आपराधिक प्रशासन का मुखिया भी कहा जाता है।

Q.2: जिला मजिस्ट्रेट का क्या काम होता है?

Ans: इस पद पर काम करने वाले व्यक्ति को मुख्य रूप से पुलिस के कार्यो पर नजर रखनी है। अपने एरिया के अन्य मजिस्ट्रेट के कार्य की रिपोर्ट पर भी ध्यान रखना होता है।

Q.3: जिला मजिस्ट्रेट कि सैलरी कितनी होती है?

Ans: District Magistrate की सैलरी प्रति महिना 1  लाख से लेकर 1.5 लाख रुपये दी जाती है।

Q.4: जिला मजिस्ट्रेट कैसे बने? 

Ans: जो उम्मीद वार जिला कलेक्टर बनना चाहता है उसको UPSC द्वारा आयोजित CSE (सिविल सर्विस एग्जाम) परीक्षा को पास करना होता है।

यह भी पढ़े:

Full Form In Hindi

 

Leave a Comment

TATA NEW CAR, BEST TATA CAR, LATEST MODEL TATA CAR, TATA PUNCH NEW MODEL, TATA PUNCH PRICE