DC Full Form In Hindi | DC की फुल फॉर्म क्या होती है?

Photo of author

DC full form in Hindi: विज्ञान की दुनिया में आपको कई सारे इलेक्ट्रिक चीजो का ज्ञान मिलता है, जो कि बड़े बड़े वैज्ञानिकों द्वारा आविष्कार किया गया है। वैसे करेंट के बारे में तो सभी को पता होता है चाहे वो व्यक्ति पढ़ा लिखा हो या नहीं , सभी के घरों में इलेक्ट्रनिक करेंट का इस्तेमाल किया जाता इलेक्ट्रिक बल्ब या पंखे जैसे समन आदि को चलने के लिए, उन्हें ऊर्जा प्रवाहित करने के लिए। करेंट के भी कुछ  प्रकार होते है उन्हीं में से एक है  DC. आज के आर्टिकल में हम आपको DC Full Form In Hindi के बारे में जानकारी देने वाले है

DC Full Form In Hindi
DC Full Form In Hindi

What is DC in Hindi | DC क्या है?

जो करेंट अपनी  दिशा और मान नहीं बदलती और एक ही दिशा में चलती है उसे DC करेंट कहते है। आम घरों में करेंट प्रवाह के लिए DC का ही इस्तेमाल किया जाता है,कहा जाता है कि १९ सदी में हर जगह इसका ही इस्तेमाल किया जाता था परंतु DC करेंट में लॉसेस ज्यादा थे तब और भी दूसरे करेंट का आविष्कार किया गया।DC करेंट का आविष्कार थॉमस अल्वा एडिसन ने  १८ वीं सदी में किया था। DC करेंट के बहुत से फायदे है जैसे DC करेंट को आसानी से जमा किया जा सकता है ,आजकल घरों में भी DC का इस्तेमाल बैटरी,सोलर सेल आदि चीजों के लिए होता है। 

Full form of DC

1.DC full form in hindi – दिष्ट धारा

2.DC full form in english- Direct current .

करेंट में  दो प्रकार के करेंट होते है एक DC जिसे डायरेक्ट करेंट बोलत है और एक AC जिसे अल्टरनेटिग करेंट कहते है , ये दोनों ही उपयोग में लिया जाता है। वैज्ञानिक तरीको से AC को DC और DC को AC में बदला भी जा सकता है। जैसे कि AC को DC में बदलने के लिए रेक्टिफायर का इस्तेमाल किया जाता है परंतु DC को AC में बदलने के लिए इन्वर्टर का इस्तेमाल किया जाता है। आजकल घरों में AC या DC दोनों का ही इस्तेमाल किया जाता है।जिससे कि करेंट का सही उपयोग होता है।

Conclusion

ऑटोमोबाइल से लेकर घर के जरूरी एप्लाइंसेस तक सब में DC का इस्तेमाल होता है। आज जितनी भी सुविधाएं हमें इलेक्ट्रिक करेंट से मिल रही है, उनमें या तो DC करेंट का इस्तेमाल होता है या तो AC करेंट का, ये बेहतरीन आविष्कार सभी को बहुत पसंद आया है वर्तमान में इसका उपयोग जरूरी होता जा रहा है।

Read Also: HP की फुल फॉर्म क्या होती है? | HP Full Form In Hindi

FAQ

AC और DC की फुल फॉर्म क्या होती है?

यहां पर AC का पूरा नाम Alternating current होता है और DC का पूरा नाम Direct Current होता है

AC और DC में क्या अंतर है?

प्रत्यावर्ती धारा AC जिसको ओल्टीनेटर के माध्यम से बनाया जाता है इस धारा को 33000 वाल्ट तक उत्पादित किया जा सकता है लेकिन दूसरी तरफ DC दिष्टधारा जिसको जेनेरेटर के माध्यम से उत्पादित किया जाता है और इसको अधिकतम 650 वाल्ट तक ही जेनरेट किया जा सकता है

AC और DC में क्या फर्क होता है?

एक तरफ AC जो प्रत्यावर्ती धारा है और दूसरी तरह DC जो दिष्टधारा है

DC की आवर्ती या फ्रीक्वेंसी कितनी होती है?

दिष्टधारा की आवर्ती शुन्य होती है

दिष्टधारा (DC) क्या है? | दिष्टधारा (DC) किसे कहते है?

दिष्टधारा जो हमेशा एक ही दिशा में बहती है और इसे प्रत्यावर्ती धारा से बिल्कल उल्टा माना जाता है क्योकि AC प्रत्यावर्ती धारा दोनों दिशाओ में चलती है हालाँकि दोनों हो धाराओं का मान बराबर ही रहता है

करंट कितने प्रकार का होता है?

करंट दो प्रकार का होता है पहला AC और दूसरा DC

घरो में आने वाली बिजली कितने वोल्ट की होती है ?

हमारे घरो में आने वाली बिजली 220 वोल्ट की होती है लेकिन कई बार 80 और 90 वोल्ट की सप्लाई घरो में रहती है

दिष्टधारा की अधिकतम वॉल्ट कितनी होती है?

DC धारा की अधिकतम 650 वॉल्ट होती है

DC (दिष्टधारा) को AC (प्रत्यावर्ती धारा) में कौन बदलते है?

इन्वेर्टर DC को AC में बदलता है

घरो में DC(दिष्टधारा) का प्रयोग क्यों नहीं होता है?

हमारे घरो में DC (दिष्टधारा) का प्रयोग इसलिए नहीं किया जाता है क्योकि यह धारा सिर्फ एक ही दिशा में बहती है

मनुष्य को कितने वॉल्ट धारा पर झटका लगता है?

जब मनुष्य 220 वॉल्ट के तार को हाथ लगता है तब 2.2 एम्पियर का झटका लगता है

डीसी का मतलब क्या होता है?

डीसी को हिंदी में दिष्टधारा कहा जाता है

Leave a Comment

TATA NEW CAR, BEST TATA CAR, LATEST MODEL TATA CAR, TATA PUNCH NEW MODEL, TATA PUNCH PRICE